Monday, May 31, 2010

मनचाहे डाक टिकट

डाक टिकट इकट्ठा करने का शौक तो हम में से बहुत से लोगों को रहा होगा. थोड़ा बहुत मुझे भी है. बहुत से भारतीय टिकट और प्रथम दिवस आवरण अभी भी रखे हुए है. फ्रैंकिंग मशीन, ईमेल, कुरियर आदि सेवाओं के आ जाने से आजकल डाक टिकटों की ज़रुरत कम होती जा रही है. फिर भी कभी-कभी डाकघर का चक्कर लगा ही लेता हूँ. पिछले दिनों गया तो स्टंप्स.कॉम की और से बेचा जा रहा यह डब्बा उठा लाया. यह आपको अपने कम्प्युटर से अपनी मन-मर्जी के फोटो उपलोड करके उन्हें २० टिकटों की शीट पर छपने की सहूलियत देता है. छपे हुए टिकट स्टंप्स.कॉम द्वारा आपके घर भेज दिए जाते हैं. यह टिकट अमेरिका में डाक सेवा विभाग (USPS) द्वारा बनाए गए टिकटों के सामान ही स्वीकृत हैं. चाहे अपने परिवार के फोटो छापिये चाहे अपने इष्टदेव के. कुछ टिकट हमने भी बनाए. एक बानगी देखिये.


[सभी चित्र अनुराग शर्मा द्वारा
Photos by Anurag Sharma]

21 comments:

  1. कमाल हो गया!

    मतलब... आप इन टिकटों को असली टिकटों की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं!?

    लेकिन इसके लिए कोई इमेज कंट्रोल/मॉडरेशन पॉलिसी भी तो होगी.

    ReplyDelete
  2. आईये, मन की शांति का उपाय धारण करें!
    आचार्य जी

    ReplyDelete
  3. ये टिकट तो अच्छे हैं ही..ये सुविधा भी सचमुच कमाल की है।

    ReplyDelete
  4. बहुत बढ़िया जी

    ReplyDelete
  5. डाक टिकटों का तो आपने बहुत ही अच्छा कलक्शन प्रस्तुत किया है!

    ReplyDelete
  6. अरे वाह यह तो बड़ा मजेदार है..

    ReplyDelete
  7. हमारे यहां भी यह चलता है, बिलकुल इसी तरह से. धन्यवाद

    ReplyDelete
  8. ये तो बहुर बढिया जानकारी मिली. हम तो डाक टिकट इकट्ठी करने के मामले मे देशी रियासतों तक ही सिमटे रह गये.

    रामराम.

    ReplyDelete
  9. Stamps.com के बारे में ज्ञात न था. अच्छी जानकारी मिली और मस्त सेवा है.

    ReplyDelete
  10. धन्यवाद.. कुछ स्टाम्प आदि के बाना डालता हूं...

    ReplyDelete
  11. एक विस्तृत चर्चा

    ReplyDelete
  12. अनुराग भाई ,
    आपने चि. अपरा बिटिया के संगवाली
    स्टेम्प बनवाई है क्या ?
    अच्छा आलेख और बढ़िया जानकारी के लिए
    शुक्रिया
    स --स्नेह
    - लावण्या

    ReplyDelete
  13. अच्छी जानकारी

    ReplyDelete
  14. बानगी यदि ऐसी है तो 'फिनिश्‍ड प्रिण्‍ट्स' की कल्‍पना की जा सकती है। शानदार। मूल टिकिट की तरह।

    रोचक सूचना दी आपने।

    ReplyDelete
  15. अच्छी जानकारी डाक टिकटों के बारे में.....
    बढ़िया है जी....

    ReplyDelete

मॉडरेशन की छन्नी में केवल बुरा इरादा अटकेगा। बाकी सब जस का तस! अपवाद की स्थिति में प्रकाशन से पहले टिप्पणीकार से मंत्रणा करने का यथासम्भव प्रयास अवश्य किया जाएगा।