Saturday, August 14, 2010

स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं! [इस्पात नगरी से- 28]

हमारा गणतंत्र फले फूले और हम सब भारत माता की सच्ची सेवा में अपना तन मन धन लगा सकें और मन, वचन, कर्म से सत्य के मार्ग पर चलें। सैनिकों की तरह सीमा पर और भीतर आतंकवादियों का सामना करते हुए जीवनदान न भी कर सकें तो ब्लड बैंक जाकर रक्तदान तो कर ही सकते हैं। सीमा पर लड़ न सकें किंतु इतना ध्यान तो रख ही सकते हैं कि ब्लॉग पर लगाये हुए मानचित्र में देश की सीमायें सही और अधिकारिक हों। आतंकवाद के विभिन्न रूपों से दो-दो हाथ करने का अवसर न भी मिले मगर उनका महिमामंडन तो रोक ही सकते हैं। अपने को कभी भी क्षुद्र न समझें, कवि ने ठीक ही कहा है, "जहाँ काम आवै सुई, कहा करै तरवार..."

तो उठिये, देश के नवनिर्माण का व्रत लीजिये और जुट जाइये काम में!

एक बार फिर हार्दिक शुभकामनायें!
वन्दे मातरम! जय भारत!

संयुक्त राष्ट्र द्वारा जारी भारत मेडल  

पिट्सबर्ग में भारत का राष्ट्रीय ध्वज

===============================================
सम्बन्धित कड़ियाँ
झंडा ऊँचा रहे हमारा (ऑडिओ)
यह सूरज अस्त नहीं होगा!
श्रद्धांजलि - १०१ साल पहले
चंद्रशेखर आज़ाद का जन्म दिन
सेनानी कवयित्री की पुण्यतिथि
माओवादी इंसान नहीं, जानवर से भी बदतर!
बॉस्टन में भारत
स्वतंत्रता दिवस (2009) की शुभकामनाएं!
===============================================
इस्पात नगरी से - पिछली कड़ियाँ
===============================================
[चित्र अनुराग शर्मा द्वारा :: Photos by Anurag Sharma]

24 comments:

  1. हमारा प्रयास रहेगा कि आपके दिखाये रास्ते पर चलें।
    वन्दे मातरम! जय भारत!

    ReplyDelete
  2. आपको भी बहुत शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  3. स्वतंत्रता दिवस पर अनंत अशेष सुमंगलकामनायें !

    ReplyDelete
  4. आपको भी स्वाधीनता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  5. स्वतंत्रता दिवस की आप को भी शुभकामनाये,क्या हमारा देश सच मै आजाद है?

    ReplyDelete
  6. hamse jo ban padega ham zaroor karenge..
    zashn-ae-aazaadi ki dili..mubarakbaad..aapko..

    ReplyDelete
  7. स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  8. उरूजे क़ामयाबी पर कभी हिन्दोस्ताँ होगा।
    रिहा सय्याद के हाथों से अपना आशियाँ होगा।

    जय हिन्द ।

    ReplyDelete
  9. भाटिया जी,

    जैसे शिकायत करना बहुत आसान है, वैसे ही मिल-बैठकर समस्याओं का हल निकालना भी बहुत कठिन नहीं है। अगर आपको लगता है कि आप अभी आज़ाद नहीं हैं तो कृपया विचार कीजिये कि उस भावना से कैसे बचा जा सकता है। आज के मंगल अवसर पर एक बार फिर मेरी शुभकामनायें!

    ReplyDelete
  10. उरूजे क़ामयाबी पर कभी हिन्दोस्ताँ होगा।
    रिहा सय्याद के हाथों से अपना आशियाँ होगा।

    तथस्तु!

    ReplyDelete
  11. ऐसा ही हो ...
    स्वतन्त्रता दिवस की बहुत शुभकामनायें ...!

    ReplyDelete
  12. ^पिट्सबर्ग में भारत का राष्ट्रीय ध्वज^ मुझे ध्वज की यह बानगी बहुत पसंद आई. बांटने के लिए आभार.

    ReplyDelete
  13. यही कोशिश मेरी भी रहती है की बड़ा ना सही छोटा ही सही कायिक ना सही मानसिक ही सही कुछ ना कुछ तो अपने देश के लिए किया ही जाय.

    आपको भी स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  14. वंदे मातरम...

    स्वतंत्रत दिवस की बधाईयां!!!!

    ReplyDelete
  15. स्वतंत्रता दिवस की असीम शुभकामनायें !!!

    ReplyDelete
  16. स्वतंत्रता दिवस के शुभ अवसर पर हार्दिक अभिनन्दन एवं शुभकामनाएँ.

    रामराम.

    ReplyDelete
  17. विदेश मे रहकर देशभक्ति की भावनाओँ से ओतप्रोत विचारों को प्रणाम ।

    ReplyDelete
  18. विदेश मे रहकर देशभक्ति की भावनाओँ से ओतप्रोत विचारों को प्रणाम ।

    ReplyDelete
  19. स्वतंत्रता दिवस के मौके पर आप एवं आपके परिवार का हार्दिक अभिनन्दन एवं शुभकामनाएँ.

    सादर

    समीर लाल

    ReplyDelete
  20. बन्दी है आजादी अपनी, छल के कारागारों में।
    मैला-पंक समाया है, निर्मल नदियों की धारों में।।
    --
    मेरी ओर से स्वतन्त्रता-दिवस की
    हार्दिक शुभकामनाएँ स्वीकार करें!
    --
    वन्दे मातरम्!

    ReplyDelete
  21. आपने भी मेरे दिल का बात कही है....यही कामना करता हूं सभी को भगवान देश सेवा का मौका दे.यही एक कामना इस स्वतंत्रता दिवस पर.....आमिन

    ReplyDelete
  22. सचमुच स्वाभिमान की जिन्दगी लाख गुना बेहतर है -झंडा ऊंचा रहे हमारा !

    ReplyDelete
  23. "जहाँ काम आवै सुई, कहा करै तरवार..." |

    बिलकुल सही कहा है |

    ReplyDelete

मॉडरेशन की छन्नी में केवल बुरा इरादा अटकेगा। बाकी सब जस का तस! अपवाद की स्थिति में प्रकाशन से पहले टिप्पणीकार से मंत्रणा करने का यथासम्भव प्रयास अवश्य किया जाएगा।